Google Algorithm क्या है? कैसे काम करता है

अगर आप ब्लॉगिंग या डिजिटल मार्केटिंग के फील्ड में हैं तो आपने Google Algorithm के बारे में सुना होगा। हम जो भी क्वेरी गूगल में search करते हैं। तो उन क्वेरीज के बेहतर रिजल्ट्स बहुत ही कम समय में हमें गूगल के अलग अलग algorithms की वजह से ही मिल पाती है। 

Google Algorithm क्या है

इस आर्टिकल में हम गूगल के एल्गोरिथम के बारे में जानने वाले हैं। जिसमें हम Google Algorithm क्या है? कैसे काम करता है? के बारे में जानेंगे। SEO के नजरिए से ये कितने महत्वपूर्ण हैं? और इससे हमारे ब्लॉग और वेबसाइट की रैंकिंग सर्च इंजन रिजल्ट्स पेजेस में कैसे effect होती है? आदि के बारे में हम इस आर्टिकल में जानने वाले हैं।


Google Algorithm क्या है? (What is Google Algorithm in SEO Hindi)

Google Algorithm वो system है। जिसकी मदद से गूगल यूजर्स द्वारा सर्च की गयी queries के सबसे बेहतर रिजल्ट्स बहुत ही कम समय में दिखाता है। इसकी मदद से गूगल अपने SERPs में यूजर्स के क्वेरी के अनुसार ब्लॉग या वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करने का काम करता है।

गूगल के अपने 200 से भी ज्यादा रैंकिंग algorithms हैं। जिनके द्वारा google यूजर्स को सबसे बेहतर रिजल्ट्स दे पाता है। ये algorithms समय समय पर लगातार अपडेट होते रहते हैं। ये algorithms कौन कौन से हैं? और सारे एल्गोरिथम कैसे काम करते हैं। इनकी जानकारी गूगल कभी भी reveal नहीं करता है। गूगल कुछ ही एल्गोरिथम के बारे में जानकारी शेयर करता है जो कि major होते हैं।


Google Algorithm कैसे काम करता है? (How Google Algorithm works in SEO Hindi)

गूगल के सारे algorithms के काम करने के सबके अलग अलग तरीके हैं। लेकिन हम आपको वो चार तरीकों के बारे में बता रहे हैं जो सभी तरह के वेबसाइट्स पर की जाती है।

Crawling

गूगल अपने सर्च इंजन रिजल्ट्स पेजेस (SERPs) में किसी भी वेबसाइट को रैंक करने के लिए उसे सबसे पहले crawl करता है। Crawling में गूगल के बोट्स/स्पाइडर इन्टरनेट की सभी वेबसाइट्स की डाटा को scan करने का काम करते हैं। इससे गूगल के बोट्स यह जान पाते हैं कि ब्लॉग या वेबसाइट किस टॉपिक पर है। और वेबसाइट में किस तरह की पोस्ट्स पब्लिश होती है? आदि।


Analysing

Crawl करने के बाद गूगल के बोट्स उन वेबसाइट्स की डाटा को analyse करने का काम करते हैं। इसमें बोट्स वेबसाइट्स और पोस्ट्स पर की गई SEO techniques को चेक करते है। पोस्ट की content क्वालिटी, टाइटल, meta description, keyword को चेक किया जाता है।


Indexing

Indexing में वेबसाइट्स की डाटा स्टोर होती है। Google अपने सर्वर में उन वेबसाइट्स की डाटा को सबसे ज्यादा valuable समझता है। जिसमें अच्छी Search Engine Optimization (SEO) की गई होती है। जिसमें कीवर्ड का अच्छे से यूज किया गया होता है। जो यूजर्स को कुछ वैल्यू देती है। जिसे यूजर्स बहुत ज्यादा पसंद करते हैं।


Search Results

सर्च रिजल्ट्स में गूगल अपने index की गई डाटा को यूजर द्वारा की गई क्वेरी के अनुसार दिखाने का काम करती है। ये भी गूगल के अलग अलग एल्गोरिथम के द्वारा ही हो पाती है। गूगल के algorithm उन वेबसाइट्स को सबसे ऊपर रैंक करती है। जो यूजर्स के क्वेरी के relevant होती है। जो वेबसाइट जल्दी open होती है। जिसमें अच्छी और फायदेमंद जानकारियां यूजर्स के लिए लिखी जाती है।

किस keyword के सर्च होने पर कौन सी वेबसाइट्स को SERPs में किस क्रम में दिखानी है। ये भी गूगल के ही एल्गोरिथम decide करते हैं। आपने देखा होगा कि गूगल के टॉप रिजल्ट्स में कभी भी ऐसी वेबसाइट रैंक नहीं करती है। जो spamming को बढ़ावा देती है। जो useful नहीं होती है। जिसमें गलत SEO की गई होती है। यह सब गूगल के इन्हीं एल्गोरिथम की मदद से ही हो पाती है।


SEO में इनका क्या महत्व है?

हम जो भी SEO अपने ब्लॉग या वेबसाइट में करते हैं। उन्हें चेक करने और रैंक करने का काम ये algorithms ही करते हैं। अगर आप अपने वेबसाइट में किसी भी black hat SEO techniques को फॉलो करते हैं। तो आपकी वेबसाइट कभी भी SERPs में रैंक नहीं कर पायेगी।

वहीं अगर आप अपने वेबसाइट में अच्छी SEO प्रैक्टिसेस को फॉलो करते हैं। यूजर्स के लिए आर्टिकल लिखते हैं। अपने वेबसाइट को SEO optimized बनाते हैं। तो इसे गूगल के एल्गोरिथम अच्छा मानते हैं। इससे हमारे ब्लॉग और वेबसाइट के रैंक होने के chances बढ़ जाते हैं।

जैसा कि हमने आपको बताया कि गूगल अपने एल्गोरिथम समय समय पर लगातार अपडेट करते रहता है। इन सारे एल्गोरिथम को गूगल द्वारा अपडेट करने के दो मुख्य कारण हैं। पहला इससे नए और fresh content रैंक कर पाती है। जिसमें अच्छी SEO प्रेक्टिस को फॉलो की जाती है।

वहीं दूसरा कारण है कि इससे किसी भी तरह से black hat SEO करने वाली वेबसाइट्स SERPs में रैंक नहीं कर पाती है। गूगल अपने यूजर्स को बहुत ज्यादा प्राथमिकता देता है। यही कारण है कि गूगल के SERPs में सिर्फ वही वेबसाइट रैंक कर पाती है। जो यूजर्स को value देती है। जो यूजर्स को अच्छी और बेहतर जानकारी शेयर करते हैं।


Google Algorithm के कुछ महत्वपूर्ण update:

  1. Panda (2011)
  2. Penguin (2012)
  3. Hummingbird (2013)
  4. Pigeon (2014)
  5. Mobile update (2015)
  6. Rankbrain (2015)
  7. Fred (2017)
  8. Medic (2018)
  9. Bert (2019)

ये वो कुछ major Google algorithms update हैं। जिनकी मदद से हमें गूगल के इन अलग अलग एल्गोरिथम के काम करने के तरीकों के बारे में पता चलता है।

गूगल के algorithms जब भी अपडेट होते हैं। तो गूगल के SERPs में रैंक कर रही वेबसाइट्स की रैंकिंग effect होती है। कुछ वेबसाइट्स की रैंकिंग या तो बढ़ जाती है या फिर एकदम से घट जाती है। 

अगर आज कोई वेबसाइट गूगल के first page पर रैंक कर रही है। तो यह जरूरी नहीं है कि वह हमेशा ही गूगल के SERPs के first page पर बनी रहेगी। SERPs में रैंक कर रही वेबसाइट्स की position change होते रहती है। जो इन्हीं algorithm के update होने से होती है।

इन सभी algorithm के काम करने के तरीके अलग अलग हैं। कुछ एल्गोरिथम वेबसाइट की स्पीड, SEO friendly को चेक करने का काम करती है। तो वहीं कुछ एल्गोरिथम वेबसाइट की links, URLs, title, meta description, keywords, image आदि बहुत सारे फैक्टर्स को चेक करने का काम ये सारे algorithms ही करते हैं।


निष्कर्ष

Google Algorithm एक ऐसा complex system है। जिससे गूगल यूजर्स के द्वारा सर्च की गई क्वेरी के सबसे बेहतर रिजल्ट्स बहुत ही कम समय में provide करने का काम करते हैं। इन एल्गोरिथम से ही किसी भी ब्लॉग और वेबसाइट की रैंकिंग SERPs में डिसाइड होती है।

इन एल्गोरिथम से black hat SEO techniques को फॉलो करने वाली वेबसाइट्स को penalized किया जाता है। और उन वेबसाइट्स को अच्छी रैंकिंग दी जाती है। जो यूजर्स के क्वेरी के relevant होती है। जिसमें अच्छी SEO techniques को फॉलो किया जाता है।

हम और आप गूगल के इन सारे एल्गोरिथम के बारे में नहीं जान सकते हैं। लेकिन अगर आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को अच्छे से optimized करते हैं। अच्छी SEO को फॉलो करते हैं। यूजर्स को वैल्यू देते हैं। तो इससे हमारे वेबसाइट की रैंक होने के chances काफी ज्यादा बढ़ जाती है।

इस आर्टिकल में हमनें गूगल एल्गोरिथम के बारे में जाना। जिसमें हमनें Google Algorithm क्या है? कैसे काम करता है? के बारे में जानकारी प्राप्त की। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो। तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं। इसके साथ ही अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने सोशल मीडिया में जरूर शेयर करें।

धन्यवाद


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ